Ticker

6/recent/ticker-posts

Header Ads Widget

Who can be starting export business in INDIA?

 Who can be starting export business in INDIA?

 “देश की कोई भी वस्तु या सेवा जिसे भारत सरकार ने मान्यता दी हो ये को विदेश की किसी भी company, संस्था, या निजी उपयोग की हेतु भेजा हो और उसके बदले विदेश की currency मिलती है तो उसे export कहा जाता है.”

एक बात याद रखने जैसी है की वह वस्तु या सेवा देश के अंदर या देश के किसी भी company, trust, की मालकी की हो या वह खुद या किसी और से निर्माण करता है. उसके बदले विदेश की currency मिलनी चाहिये.

Export हर देश के लिए जरुरी होता है. देश से जादा से जाया वस्तु और सेवा अगर Export होती तो उससे देश में विदेश की currency ज्यादा हो सकती है और उससे देश की विकास में बहुत बड़ा योगदान समजा जाता है.

भारत में import और Export trade (Directorate General of Foreign Trade) DGFT के अंतर्गत आता है. यही संस्था हमें export या import के बारेमे जरुरी लाइसेंस जिसे IEC Code कहते है. यही देती है.

 

How to take export permission from Govt of India?

Export बिज़नस शुरु करने के लिए आपकी उम्र 18 पूर्ण होना चाहिये. आप किसी भी company, Trust, Joint Venture, Partnership Firm,Government undertaking, LLP, Public limited, Private limited, या Proprietorship इनमे से किसी एक संस्था हो, लेकिन उनका उदेश अपनी वस्तु या सेवा बेचकर विदेशी पैसे मिलना होना चाहिये.

आपके पास PAN card होना जरुरी है. National या Private Bank है आपका मतलब जिस नाम से import-export Licence लेना हो उस नाम का बैंक में current Account होना अनिवार्य है. DGFT से IEC ( import-export code/certificate) लेने के बाद आप जिस Sea पोर्ट या एअरपोर्ट से आपकी वस्तु भेजना चाहते है, वह आपका IEC code registered होना जरुरी है. यह काम Custom House Agent ही करता है. 

अगर आपको पता नहीं है या DGFT से लाइसेंस खुद नहीं ले पते है तो कोई भी tax consultant, CA, Custom House Agent आपको यह लेके दे सकता है. उसकी fee कम से कम 1500/- और जादा से जादा 5000/- हो सकती है. यह निर्भर करता है उस व्यक्ति या consultant पर वह कितना charge करता है.

IEC CODE को आप जीस बैंक का current account है उस बैंक में registered करना होता है. उससे आप जब भी कोई वस्तु export करते है तब आप को सरकार मान्य incentive मिलता है जो registered बैंक account में सीधे transfer होता है.

Licence के लिए आवश्यक दस्तावेज़

1.     PAN card,

2.     बैंक का current Account,

3.     आधारकार्ड,

4.     MSME में नोंद होना जरुरी है

5.     व्यवसाय या घर का बिजली का बिल, टेलीफोन का बिल,

6.     trust या LLP, कंपनी हो तो उसका registration certificate,

7.     Partnership हो तो उसका registered certificate,

ऊपर के पहले 4 दस्तावेज कोई भी proprietorship के लिए काफी होते है.

 

 

 

Post a Comment

0 Comments